Overview of crawling and indexing topics

इस सेक्शन में बताया गया है कि सामग्री को ढूंढने और पार्स करने से जुड़ी Google की सुविधा को आप कैसे कंट्रोल कर सकते हैं. इससे आपकी सामग्री को 'सर्च' और दूसरी 'Google प्रॉपर्टीज़' में दिखाने में मदद मिलती है. साथ ही, इसमें यह भी बताया गया है कि आप Google को अपनी साइट की किसी खास सामग्री को क्रॉल करने से कैसे रोक सकते हैं.

यहां हर पेज के बारे में थोड़ी जानकारी दी गई है. पूरी जानकारी यहां पढ़ें.

विषय जानकारी
अपने साइटमैप प्रबंधित करना Google को अपनी साइट के उन पेजों के बारे में बताएं जो नए हैं या अपडेट किए गए हैं.
अपनी सामग्री का ऐक्सेस ब्लॉक करना Google को 'सर्च' या दूसरी 'Google प्रॉपर्टीज़' पर अपनी साइट की सामग्री को दिखाने या ऐक्सेस करने से रोकें. देखें कि आपकी ज़रूरत के हिसाब से कौनसा तरीका सबसे सही है.
Google से जानकारी हटाना Google पर दिखने वाली सामग्री को अपनी साइट से हटाएं.
Google को अपने डुप्लीकेट कॉन्टेंट के बारे में बताना बहुत ज़्यादा क्रॉलिंग से बचने के लिए, Google को अपनी साइट के किसी डुप्लीकेट पेज के बारे में बताएं. जानें कि Google, डुप्लीकेट कॉन्टेंट का अपने-आप कैसे पता लगाता है, डुप्लीकेट कॉन्टेंट का इस्तेमाल कैसे करता है, और कैसे किसी डुप्लीकेट पेज ग्रुप को कैननिकल पेज असाइन करता है.
Google को अपने यूआरएल फिर से क्रॉल करने के लिए कहना आपने अभी-अभी एक अहम नए पेज या अपडेट किए गए पेज को प्रकाशित किया है और चाहते हैं कि Google उसे क्रॉल करे.
देखना कि Googlebot पर रोक लगी है या नहीं पक्का करें कि Google आपकी साइट के उन सभी पेज को ऐक्सेस कर सके जिन्हें आप 'सर्च' में दिखाना चाहते हैं.
कस्टम 404 पेज बनाना ऐसा कस्टम 404 पेज कैसे बनाएं जो उपयोगकर्ताओं के साथ-साथ Googlebot के लिए भी काम करे.
अपनी साइट को ट्रांसफ़र करना, मूव करना या माइग्रेट करना अगर आप अपनी साइट को एक डोमेन से दूसरे पर ले जा रहे हैं, तो खोज के नतीजों में किसी भी रुकावट को कम करने का तरीका यहां बताया गया है.
ऐसे खास टैग जिन्हें Google समझता है Google, खोज नतीजों में दिखने के तरीके और व्यवहार को कंट्रोल करने वाले कई टैग एक्सटेंशन के साथ काम करता है.
Google के क्रॉलर अलग-अलग काम के लिए Google जिन क्रॉलर का इस्तेमाल करता है उनके बारे में जानकारी.
क्रॉल करने के बारे में आंकड़ों की रिपोर्ट क्रॉल करने के बारे में आंकड़ों की रिपोर्ट से पता चलता है कि Google ने आपकी साइट कब और कितनी बार क्रॉल की.
Googlebot की क्रॉल दर बदलना Google की ओर से आपकी साइट पर बहुत ज़्यादा क्रॉल अनुरोध की संभावना न के बराबर है. हालांकि, ऐसा होने पर आप हमें अनुरोधों को कम करने के लिए कह सकते हैं.