मोबाइल–फ़र्स्ट इंडेक्सिंग के लिए सबसे अच्छे तौर-तरीके

मोबाइल-फ़र्स्ट इंडेक्सिंग का मतलब है कि इंडेक्स और रैंक करने के लिए Google मुख्य रूप से सामग्री के मोबाइल वर्शन का इस्तेमाल करेगा. पहले किसी उपयोगकर्ता की क्वेरी के लिए किसी पेज को जांचते समय इंडेक्स मुख्य रूप से उस पेज के डेस्कटॉप वर्शन का इस्तेमाल करता था. चूंकि ज़्यादातर उपयोगकर्ता अब किसी मोबाइल डिवाइस के ज़रिए Google को एक्सेस करते हैं, इसलिए इंडेक्स अब से मुख्य रूप से किसी पेज की सामग्री के मोबाइल वर्शन का इस्तेमाल करेगा. हम अलग से मोबाइल-फ़र्स्ट इंडेक्स नहीं बना रहे हैं. हम केवल एक ही इंडेक्स का इस्तेमाल करना जारी रखेंगे.

मोबाइल-फ़र्स्ट इंडेक्सिंग में Googlebot ऐसे पेज को पहले क्रॉल और इंडेक्स करता है जिनमें स्मार्टफ़ोन एजेंट मौजूद होते हैं. हम खोज नतीजों में उस यूआरएल को दिखाना जारी रखेंगे जो उपयोगकर्ताओं के लिए सबसे ज़्यादा सही रहेगा (चाहे वह कोई डेस्कटॉप यूआरएल हो या मोबाइल).

हमने बताया था कि साइटों को इंडेक्स करने में हम कोई हड़बड़ी नहीं करते हैं ताकि साइट मालिकों और उपयोगकर्ताओं के लिए अच्छा अनुभव पक्का कर सकें. कोई साइट मोबाइल-फ़र्स्ट इंडेक्सिंग के लिए तैयार है या नहीं यह तय करने के लिए हम सबसे अच्छे तौर-तरीकों के आधार पर उसकी जांच करते हैं और उस साइट को तभी इंडेक्स करते हैं जब वह इसके लिए तैयार हो.

क्या बदल रहा है

अगर आपके पास इस तरह की साइट है...

सिर्फ़ डेस्कटॉप

आपकी साइट सिर्फ़ डेस्कटॉप के लिए है और उसका कोई मोबाइल फ़्रेंडली वर्शन नहीं है.

कोई बदलाव नहीं. मोबाइल वर्शन और डेस्कटॉप वर्शन एक जैसे हैं.

प्रतिक्रियाशील वेब डिज़ाइन

आपकी साइट में स्क्रीन के नाप के हिसाब से ज़रूरी बदलाव अपने-आप हो जाते हैं.

कोई बदलाव नहीं. मोबाइल वर्शन और डेस्कटॉप वर्शन एक जैसे हैं.

कैननिकल एएमपी

आपके सभी वेब पेज एएमपी एचटीएमएल में बनाए जाते हैं.

कोई बदलाव नहीं. मोबाइल वर्शन और डेस्कटॉप वर्शन एक जैसे हैं.

अलग–अलग यूआरएल

हर डेस्कटॉप यूआरएल के लिए उसी के जैसा एक अलग यूआरएल होता है जो मोबाइल के लिए उपयुक्त सामग्री दिखाता है. इस तरह की साइट को एम-डॉट साइट के रूप में भी जाना जाता है.

Google मोबाइल यूआरएल को उसके दूसरे वर्शन की तुलना में पहले इंडेक्स करता है. अगर आप मोबाइल-फ़र्स्ट इंडेक्सिंग के लिए तैयार होना चाहते हैं, तो हमारे उन तौर-तरीकों को अपनाएं जिन्हें सबसे अच्छा माना जाता है.

डायनामिक सेवा

आपकी साइट उपयोगकर्ता के डिवाइस के आधार पर अलग-अलग सामग्री दिखाती है. उपयोगकर्ताओं को केवल एक यूआरएल दिखता है.

Google मोबाइल के लिए उपयुक्त सामग्री को दूसरे किस्म की सामग्री की तुलना में पहले इंडेक्स करता है. अगर आप मोबाइल-फ़र्स्ट इंडेक्सिंग के लिए तैयार होना चाहते हैं, तो हमारे उन तौर-तरीकों को अपनाएं जिन्हें सबसे अच्छा माना जाता है.

एएमपी और गैर-एएमपी

आपकी साइट में किसी भी पेज के एएमपी और गैर-एएमपी दोनों वर्शन हैं. उपयोगकर्ताओं को दो अलग–अलग यूआरएल दिखाई देते हैं.

Google गैर-एएमपी यूआरएल के मोबाइल वर्शन को उसके दूसरे वर्शन की तुलना में पहले इंडेक्स करता है. अगर आपका गैर-एएमपी मोबाइल वर्शन डिवाइस के आधार पर सामग्री दिखाता है या अलग-अलग यूआरएल का इस्तेमाल करता है, तो हमारे उन तौर-तरीकों को अपनाएं जिन्हें सबसे अच्छा माना जाता है.

डिवाइस के आधार पर सामग्री दिखाने के लिए और अलग-अलग यूआरएल के लिए सबसे अच्छे तौर-तरीके

अगर आपकी साइट में डेस्कटॉप और मोबाइल के लिए अलग-अलग सामग्री है, यानी आपकी साइट डिवाइस के आधार पर अलग-अलग सामग्री दिखाती है या अलग-अलग यूआरएल का इस्तेमाल करती है (यानी एम-डॉट है), तो मोबाइल-फ़र्स्ट इंडेक्सिंग के लिए तैयार होने के लिए नीचे दिए गए तौर-तरीकों को ज़रूर अपनाएं, इन तरीकों को सबसे अच्छा माना जाता है:

  • आपकी मोबाइल साइट में वही सामग्री होनी चाहिए जो आपकी डेस्कटॉप साइट में है. अगर आपकी मोबाइल साइट में आपकी डेस्कटॉप साइट की तुलना में कम सामग्री है, तो आपको अपनी मोबाइल साइट को अपडेट करने के बारे में सोचना चाहिए ताकि उसकी मुख्य सामग्री आपकी डेस्कटॉप साइट जैसी ही हो. इसमें सामान्य तौर पर क्रॉल और इंडेक्स किए जा सकने वाले फ़ॉर्मैट में लिखित सामग्री, तस्वीरें (alt विशेषता वाली) और वीडियो शामिल होते हैं.
  • आपकी साइट के दोनों वर्शन में व्यवस्थित डेटा होना चाहिए. पक्का करें कि मोबाइल वर्शन के व्यवस्थित डेटा में मौजूद यूआरएल को मोबाइल यूआरएल से अपडेट किया गया है. अगर आप व्यवस्थित डेटा देने के लिए डेटा हाइलाइटर का इस्तेमाल करते हैं, तो साइट के कुल डेटा में से काम का डेटा छांटने में होने वाली गड़बड़ियों को देखने के लिए डेटा हाइलाइटर डैशबोर्ड पर लगातार नज़र रखें.
  • मेटाडेटा साइट के दोनों वर्शन पर उपलब्ध होना चाहिए. पक्का करें कि आपकी साइट के दोनों वर्शन में शीर्षक और संक्षिप्त विवरण एक जैसे हैं.

अलग-अलग यूआरएल के लिए कुछ और तौर-तरीके जिन्हें सबसे अच्छा माना जाता है

अगर आपकी साइट के अलग-अलग यूआरएल हैं (जिसे एम-डॉट के रूप में भी जाना जाता है), तो ऐसे कुछ और तौर-तरीके आपको अपनाने चाहिए जिन्हें सबसे अच्छा माना जाता है.

  • Search Console में अपनी साइट के दोनों वर्शन की पुष्टि करके पक्का करें कि आपके पास दोनों वर्शन के लिए डेटा और मैसेज, दोनों का एक्सेस है. जब Google आपकी साइट के लिए मोबाइल-फ़र्स्ट इंडेक्सिंग शुरू करता है, तो आपकी साइट के डेटा में कुछ बदलाव हो सकते हैं.
  • अलग-अलग यूआरएल पर hreflang लिंक की जाँच करें. जब आप rel=hreflang अंतर्राष्ट्रीयकरण के लिए लिंक ऐलिमेंट, का इस्तेमाल करते हैं, तो यूआरएल को आपस में इस तरह लिंक करें कि मोबाइल और डेस्कटॉप के यूआरएल में घालमेल न हो. आपके मोबाइल यूआरएल के hreflang को मोबाइल यूआरएल पर ले जाना चाहिए और इसी तरह डेस्कटॉप यूआरएल के hreflang को डेस्कटॉप यूआरएल पर ले जाना चाहिए.
  • आपकी साइट के मोबाइल वर्शन की क्रॉल दर बढ़ सकती है, इसलिए पक्का कर लें कि आपके सर्वर बढ़ी हुई दर को संभाल पाएं.
  • पुष्टि करें कि आपकी robots.txt फ़ाइल में दिए गए सुझाव आपकी साइट के दोनों वर्शन में वैसे ही काम कर रहे हैं जैसा आप चाहते थे. robots.txt फ़ाइल की मदद से साइट के मालिक यह बता सकते हैं कि वेबसाइट के किन हिस्सों को क्रॉल किया जा सकता है और किन हिस्सों को नहीं. ज़्यादातर मामलों में, साइटों को अपने मोबाइल और डेस्कटॉप वर्शन के लिए एक जैसे सुझाव देने चाहिए.
  • पक्का कर लें कि rel=canonical और rel=alternate लिंक ऐलिमेंट सही हैं, चाहे वे मोबाइल के सभी वर्शन के बीच हों या डेस्कटॉप के वर्शन के बीच हों.

निम्न के बारे में फ़ीडबैक भेजें...