Speakable (बीटा वर्शन)

speakable schema.org प्रॉपर्टी किसी लेख या वेबपेज पर मौजूद ऐसे हिस्सों की पहचान करती है जो लिखाई को बोली में बदलने की सुविधा (टीटीएस) का इस्तेमाल करके, ऑडियो में चलाने के लिए सबसे बेहतर हों. मार्कअप जोड़ने से सर्च इंजन और दूसरे ऐप्लिकेशन ऐसे कॉन्टेंट की पहचान कर पाते हैं जिसे टीटीएस का इस्तेमाल करके, Google Assistant की सुविधा वाले डिवाइस पर पढ़कर सुनाया जा सकता है. speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा वाले वेब पेज, नए तरीकों से कॉन्टेंट बांटने और उसे ज़्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए, Google Assistant का इस्तेमाल कर सकते हैं.

स्मार्ट स्पीकर वाले डिवाइस पर Google Assistant किसी खास विषय की खबरों से जुड़े सवालों का जवाब देने के लिए, speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा का इस्तेमाल करती है. जब उपयोगकर्ता किसी खास विषय पर खबर के बारे में पूछते हैं, तो Google Assistant वेब पर मौजूद कोई तीन लेख पेश करती है. साथ ही, लेख में मौजूद speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा वाले हिस्सों को टीटीएस का इस्तेमाल करके ऑडियो में चलाने की सुविधा भी देती है. Google Assistant किसी लेख के speakable हिस्से को पढ़ने पर उसका स्रोत बताती है और Google Assistant ऐप्लिकेशन से उपयोगकर्ता के मोबाइल डिवाइस पर पूरे लेख का यूआरएल भी भेजती है.

उदाहरण

JSON-LD कोड और xPath content-locator वैल्यू का इस्तेमाल करने वाले speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा का उदाहरण नीचे दिया गया है:

<html>
  <head>
    <title>Speakable markup example</title>
    <meta name="description" content="This page is all about the quick brown fox" />
    <script type="application/ld+json">
    {
     "@context": "https://schema.org/",
     "@type": "WebPage",
     "name": "Quick Brown Fox",
     "speakable":
     {
      "@type": "SpeakableSpecification",
      "xpath": [
        "/html/head/title",
        "/html/head/meta[@name='description']/@content"
        ]
      },
     "url": "http://www.quickbrownfox_example.com/quick-brown-fox"
     }
    </script>
  </head>
  <body>
  </body>
</html>

वह देश और भाषा जिनमें सुविधा उपलब्ध है

speakable प्रॉपर्टी का इस्तेमाल अमेरिका में रहने वाले वे उपयोगकर्ता कर सकते हैं जिन्होंने Google Home डिवाइस को अंग्रेज़ी में सेट किया है. इसका इस्तेमाल वे प्रकाशक भी कर सकते हैं जो अंग्रेज़ी में कॉन्टेंट प्रकाशित करते हैं. हम उम्मीद करते हैं कि जब काफ़ी संख्या में प्रकाशक speakable का इस्तेमाल करने लगेंगे, तब हम इसे दूसरे देशों और भाषाओं में भी लॉन्च करेंगे.

शुरुआत करने का तरीका

आपका समाचार कॉन्टेंट खास विषय से जुड़े सवालों के जवाब के तौर पर दिखे, इसके लिए ज़रूरी है कि आप इस तरीके को अपनाएं:

  1. हमारे दिशा-निर्देशों का पालन ज़रूर करें.
  2. अपने वेब पेज में speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा जोड़ें.
  3. शामिल होने की प्रक्रिया शुरू करने के लिए, अपना कॉन्टेंट सबमिट करें. कॉन्टेंट सबमिट करने के बाद, समीक्षा करने में पांच कामकाजी दिन तक लग सकते हैं. प्रक्रिया पूरी होने पर, Google आपको यह बताने के लिए एक सूचना भेजता है कि आपके कॉन्टेंट को मंज़ूरी मिली या नहीं.

दिशा-निर्देश

अगर आप चाहते हैं कि आपका speakable कॉन्टेंट समाचार के नतीजों में दिखे, तो आपको इन दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा.

तकनीकी दिशा-निर्देश

Google Assistant के लिए speakable मार्कअप लागू करते समय इन दिशा-निर्देशों का पालन करें.

  • ऐसे कॉन्टेंट में speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा को शामिल न करें जो सिर्फ़ आवाज़ या वॉइस फ़ॉरवर्ड वाली स्थितियों में गड़बड़ी कर सकता है, जैसे कि डेटलाइन (वह जगह जहां से खबर आई है), फ़ोटो कैप्शन या खबर के स्रोत की जानकारी.
  • speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा के साथ एक पूरे लेख को हाइलाइट करने के बजाय मुख्य बातों पर ध्यान दें. इससे सुनने वालों को खबर के बारे में पता चलता है और टीटीएस के पढ़ते समय अहम जानकारी उनसे नहीं छूटती.

कॉन्टेंट के लिए दिशा-निर्देश

आप जिस कॉन्टेंट को speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा के साथ मार्कअप करना चाहते हैं उसे लिखते समय इन दिशा-निर्देशों का पालन करें.

  • speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा वाले कॉन्टेंट का शीर्षक छोटा होना चाहिए और/या कॉन्टेंट की खास जानकारी ऐसी होनी चाहिए कि वह लोगों को आसानी से समझ में आए और उन्हें काम की जानकारी मिले.
  • अगर आप speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा में खबर के शुरुआती हिस्से को शामिल करते हैं, तो हमारा सुझाव है कि आप उस हिस्से को इस तरह लिखें जिसमें हर जानकारी के लिए एक अलग वाक्य हो. इससे टीटीएस की प्रक्रिया आसान हो जाएगी.
  • हमारा सुझाव है कि speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा का हर हिस्सा करीब 20 से 30 सेकंड का हो या दो से तीन वाक्यों का हो. इससे कॉन्टेंट को ऑडियो में सुनने वालों का अनुभव बेहतर बनाया जा सकता है.

अलग-अलग तरह के स्ट्रक्चर्ड डेटा की जानकारी

Speakable का इस्तेमाल Article या Webpage ऑब्जेक्ट करता है. speakable की पूरी जानकारी schema.org/speakable पर मौजूद है. इस सुविधा का इस्तेमाल करने के लिए, आपको अपने कॉन्टेंट की ज़रूरी प्रॉपर्टी को शामिल करना होगा.

आप speakable प्रॉपर्टी को अपने हिसाब से बार-बार इस्तेमाल कर सकते हैं. इसमें दो तरह की content-locator वैल्यू हो सकती हैं: सीएसएस सिलेक्टर और xPaths. इनमें से किसी एक प्रॉपर्टी का इस्तेमाल करें:

ज़रूरी प्रॉपर्टी
cssSelector

Text

जानकारी वाले पेज (जैसे कि क्लास एट्रिब्यूट) में मौजूद कॉन्टेंट को दिखाता है. cssSelector या xPath का इस्तेमाल करें, दोनों का नहीं. उदाहरण के लिए:


["headline", "summary"]
xPath

Text

xPaths की मदद से कॉन्टेंट की जानकारी दिखाता है (यह मानते हुए कि कॉन्टेंट एक्सएमएल में दिख रहा है). cssSelector या xPath का इस्तेमाल करें, दोनों का नहीं. उदाहरण के लिए:


/html/head/title

समस्या का हल

अगर आपको स्ट्रक्चर्ड डेटा का इस्तेमाल करने में कोई परेशानी आ रही है, तो ये रिसॉर्स आपकी मदद कर सकते हैं.

कॉन्टेंट को ट्रिगर नहीं किया जा सकता

समस्या: आप टीटीएस ऑडियो का इस्तेमाल करके अपने कॉन्टेंट को Google Assistant से ट्रिगर नहीं कर सकते.

समस्या हल करना

  1. इन 'बोले गए निर्देशों' का पालन करें:
    • "$topic के बारे में ताज़ा खबर क्या है?"
    • "$topic के बारे में नया क्या है?"
    • "$topic के बारे में समाचार सुनाओ."
  2. अगर अब भी समस्या आ रही है, तो हो सकता है कि रैंकिंग, एल्गोरिदम के हिसाब से तय की गई हो. Google Assistant अलग-अलग समाचार प्रकाशनों के ज़्यादा से ज़्यादा तीन लेखों को टीटीएस के इस्तेमाल से ऑडियो में सुनने की सुविधा देती है. Google, लेखों को कैसे रैंक करता है, इस बारे में ज़्यादा जानने के लिए Search के काम करने का तरीका देखें.

दूसरी समस्याएं

समस्या: ऐसी दूसरी समस्याएं जिन्हें दस्तावेज़ में नहीं दिया गया.

समस्या हल करना

  1. Google Search Central के सहायता समुदाय पर जाएं.
  2. अपने Google प्रतिनिधि या ऑडियो समाचार सहायता की टीम से संपर्क करें.

ज़्यादा ऑडियो सलूशन

अपने समाचार कॉन्टेंट के लिए speakable स्ट्रक्चर्ड डेटा के अलावा, आप Google Assistant के दूसरे ऑडियो सलूशन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. जैसे, अपने मनमुताबिक बनाए गए ऐप्लिकेशन को Google Assistant से जोड़कर उसे और बेहतर बनाना. उदाहरण के लिए, Google Assistant की मदद से उपयोगकर्ताओं को ऐप्लिकेशन का इस्तेमाल करने की सुविधा देना. ज़्यादा जानकारी के लिए, डेवलपर के लिए Actions on Google गाइड देखें.